पुस्तक विमोचन

E.g., 09/27/2021
E.g., 09/27/2021
  • 21 दिसंबर, 2017 को नई दिल्ली में श्री प्रेम नारायण द्वारा लिखित "सामीप्य" नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    21 दिसंबर, 2017 को नई दिल्ली में श्री प्रेम नारायण द्वारा लिखित "सामीप्य" नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    दिसम्बर 21, 2017
  • 8 दिसंबर, 2017 को प्रोड्डत्तुर, आंध्र प्रदेश में ऐनी बेसेंट नगरपालिका उच्च विद्यालय के शताब्दी समारोह में सर सी.पी. ब्राउन पर लिखित पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में आंध्र प्रदेश के नगरपालिका प्रशासन और शहरी विकास, शहरी आवासन मंत्री, डा. पी. नारायण, आंध्र प्रदेश के कृषि, बागवानी, रेशम उत्पादन और कृषि प्रसंस्करण मंत्री, श्री सोमीरेड्डी चंद्रमोहन रेड्डी तथा आंध्र प्रदेश के विपणन एवं भण्डारण, पशुपालन, डेयरी विकास, मत्स्य पालन और सहकारिता मंत्री, श्री चौ. आदि नारायण
    8 दिसंबर, 2017 को प्रोड्डत्तुर, आंध्र प्रदेश में ऐनी बेसेंट नगरपालिका उच्च विद्यालय के शताब्दी समारोह में सर सी.पी. ब्राउन पर लिखित पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में आंध्र प्रदेश के नगरपालिका प्रशासन और शहरी विकास, शहरी आवासन मंत्री, डा. पी. नारायण, आंध्र प्रदेश के कृषि, बागवानी, रेशम उत्पादन और कृषि प्रसंस्करण मंत्री, श्री सोमीरेड्डी चंद्रमोहन रेड्डी तथा आंध्र प्रदेश के विपणन एवं भण्डारण, पशुपालन, डेयरी विकास, मत्स्य पालन और सहकारिता मंत्री, श्री चौ. आदि नारायण रेड्डी भी है।
    दिसम्बर 8, 2017
  • 07 दिसम्बर, 2017 को नई दिल्ली में श्री महेश भागचंदका द्वारा लिखित 'अशोक सिंघल: स्टांच एण्ड पर्सर्वेंट एक्सपोनेंट ऑफ हिन्दुत्व' नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    07 दिसम्बर, 2017 को नई दिल्ली में श्री महेश भागचंदका द्वारा लिखित 'अशोक सिंघल: स्टांच एण्ड पर्सर्वेंट एक्सपोनेंट ऑफ हिन्दुत्व' नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    दिसम्बर 7, 2017
  • 06 दिसम्बर, 2017 को नई दिल्ली में शहीद जयी राजगुरु के 211वें शहीदी दिवस स्मरणोत्सव समारोह में एक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री और कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    06 दिसम्बर, 2017 को नई दिल्ली में शहीद जयी राजगुरु के 211वें शहीदी दिवस स्मरणोत्सव समारोह में एक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री और कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    दिसम्बर 6, 2017
  • 28 नवंबर, 2017 को विजयवाड़ा, आंध्र प्रदेश में श्री एम.एस. इमामबाशा द्वारा लिखित ' सुक्तिसुधा' नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    28 नवंबर, 2017 को विजयवाड़ा, आंध्र प्रदेश में श्री एम.एस. इमामबाशा द्वारा लिखित ' सुक्तिसुधा' नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    नवम्बर 28, 2017
  • 21 नवंबर, 2017 को कोच्चि, केरल में 11वीं भारतीय मत्स्य पालन और एक्वाकल्चर फोरम के उद्घाटन अवसर पर बुक ऑफ एब्स्ट्रैक्ट्स नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में केरल के राज्यपाल डा. पी. सतशिवम, केरल की मत्स्य, हार्बर इंजीनियरिंग और कश्यू उद्योग मंत्री श्रीमती जे. मर्सीकुट्टी अम्मा, केरल के स्थानीय स्व-शासन, अल्पसंख्यक कल्याण, वक्फ़ और हज मंत्री, डा. के. टी. जलील तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    21 नवंबर, 2017 को कोच्चि, केरल में 11वीं भारतीय मत्स्य पालन और एक्वाकल्चर फोरम के उद्घाटन अवसर पर बुक ऑफ एब्स्ट्रैक्ट्स नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में केरल के राज्यपाल डा. पी. सतशिवम, केरल की मत्स्य, हार्बर इंजीनियरिंग और कश्यू उद्योग मंत्री श्रीमती जे. मर्सीकुट्टी अम्मा, केरल के स्थानीय स्व-शासन, अल्पसंख्यक कल्याण, वक्फ़ और हज मंत्री, डा. के. टी. जलील तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    नवम्बर 21, 2017
  • 20 नवंबर, 2017 को हैदराबाद में श्री चुक्का रामय्या द्वारा लिखित "मोडती पाथम - द क्लासरूम" नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री श्री कादियम श्रीहरि तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    20 नवंबर, 2017 को हैदराबाद में श्री चुक्का रामय्या द्वारा लिखित "मोडती पाथम - द क्लासरूम" नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री श्री कादियम श्रीहरि तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    नवम्बर 20, 2017
  • 17 नवंबर, 2017 को नई दिल्ली में श्री पी.एस. कृष्णन द्वारा लिखित "सोशल इक्स्क्लूश़न एंड जस्टिस इन इंडिया" नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री, श्री थावर चन्द गेहलोत तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    17 नवंबर, 2017 को नई दिल्ली में श्री पी.एस. कृष्णन द्वारा लिखित "सोशल इक्स्क्लूश़न एंड जस्टिस इन इंडिया" नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री, श्री थावर चन्द गेहलोत तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी हैं।
    नवम्बर 17, 2017
  • 17 नवंबर, 2017 को नई दिल्ली में लेखक डा. पवन शर्मा से उनकी पुस्तक 'जर्नी ऑफ वूमन लॉ रिफॉर्म्स एण्ड द लॉ कमीशन ऑफ इण्डिय - सम इनसाइट्स' की पहली प्रति प्राप्त करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    17 नवंबर, 2017 को नई दिल्ली में लेखक डा. पवन शर्मा से उनकी पुस्तक 'जर्नी ऑफ वूमन लॉ रिफॉर्म्स एण्ड द लॉ कमीशन ऑफ इण्डिय - सम इनसाइट्स' की पहली प्रति प्राप्त करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु।
    नवम्बर 17, 2017
  • 30 अक्तूबर, 2017 को नई दिल्ली में केंद्रीय सतर्कता आयोग द्वारा आयोजित 'सतर्कता जागरूकता सप्ताह' समारोह में प्रीवेन्टिव  विजलन्स इनिश्यटिव नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में उत्तर पूर्वी क्षेत्र (स्वतंत्र प्रभार), प्रधान मंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष मंत्री, डॉ. जितेंद्र सिंह, कैबिनेट सचिव, श्री पी.के. सिन्हा तथा केंद्रीय सतर्कता आयुक्त, श्री के.वी. चौधरी भी हैं।
    30 अक्तूबर, 2017 को नई दिल्ली में केंद्रीय सतर्कता आयोग द्वारा आयोजित 'सतर्कता जागरूकता सप्ताह' समारोह में प्रीवेन्टिव विजलन्स इनिश्यटिव नामक पुस्तक का विमोचन करते हुए भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु। साथ में उत्तर पूर्वी क्षेत्र (स्वतंत्र प्रभार), प्रधान मंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष मंत्री, डॉ. जितेंद्र सिंह, कैबिनेट सचिव, श्री पी.के. सिन्हा तथा केंद्रीय सतर्कता आयुक्त, श्री के.वी. चौधरी भी हैं।
    अक्टूबर 30, 2017

Pages