भारत के माननीय उपराष्ट्रपति ने क्रिसमस के शुभ अवसर पर राष्ट्र को बधाई दी।

नई दिल्ली
दिसम्बर 24, 2019

क्रिसमस के शुभ अवसर पर मैं अपने देशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं देता हूँ।

ईसा मसीह को परमेश्वर का पुत्र माना जाता है जिनका जन्म पृथ्वी पर मानवता की पीड़ा को हरने के लिए हुआ था। उनकी कहानी सत्य, प्रेम और आशा की गाथा है। उन्होंने क्षमा एवं दया का उपदेश दिया और उसकी साधना की तथा अपने साथी मानवों को बंधुत्व, नि:स्वार्थता और त्याग के मूल्यों की शिक्षा दी। उन्होंने मानवता को इसके सभी दोषों और त्रुटियों के साथ स्वीकार किया और उनसे असीम प्रेम किया।

क्रिसमस का मौसम खुशियों से भरा होता है। आइये, ईसा का जन्मोत्सव मनाते हुए हम उन मूल्यों का पोषण करें जिनके वे प्रतीक थे। आइये, हम अपने से कम सुविधा प्राप्त लोगों के प्रति और दयालु बनें तथा शांति, सहिष्णुता और समरसता की सुदृढ़ नींव पर आधारित एक बेहतर विश्व के निर्माण के लिए अपने सर्वोत्तम प्रयास करें।

मैं कामना करता हूँ कि यह त्यौहार हमारे जीवन में अपार खुशियाँ लेकर आए।

Is Press Release?: 
0