भारत के उपराष्ट्रपति ने जन्माष्टमी के पावन अवसर पर सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी

नई दिल्ली
अगस्त 11, 2020

जन्माष्टमी के पावन अवसर पर मैं अपने सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं देता हूँ।

जन्माष्टमी भगवान कृष्ण, जो भगवान विष्णु के आठवें अवतार के रूप में पूजे जाते हैं, के जन्म दिवस पर मनाया जाता है। शिशु कृष्ण द्वारा मक्खन चुराने, अपने मित्रों के साथ खेलने और साथी ग्रामवासियों को चिढ़ाने और मूसलाधार बारिश से गोकुल को बचाने तथा भयानक कालिया नाग को वश में करने के उनके वीरतापूर्ण कार्य अनादि काल से हमारी सामूहिक कल्पना में रचे-बसे हैं। 'भगवत् गीता' में भगवान कृष्ण द्वारा विस्तार से वर्णित परिणामों के प्रति आसक्ति रखे बिना ईमानदारी के साथ अपने कर्त्तव्यों को निभाने का शाश्वत संदेश संपूर्ण मानवता के लिए प्रेरणास्रोत रहा है।

इस वर्ष जब भारत एवं संपूर्ण विश्व कोविड-19 महामारी के प्रसार के विरुद्ध अनवरत युद्ध कर रहा है, हम लगभग अपने सभी पारंपरिक त्योहारों को घर पर मनाने के लिए विवश हो गए हैं। जन्माष्टमी, जिसे प्राय: पूरे देश में बड़े उत्साह और उल्लास के साथ मनाया जाता है, इस वर्ष मास्क पहनकर, शारीरिक दूरी बनाए रखते हुए तथा व्यक्तिगत स्वच्छता का पालन करने के सुरक्षा मानकों का सख्ती से पालन करते हुए साधारण तरीके से मनाया जाना चाहिए।

इस पावन दिवस पर, हम सभी अपने कर्त्तव्यों का निर्वहण करने और सच्चाई के मार्ग पर चलने का संकल्प लें। यह पर्व हमारे देश में शांति, सौहार्द, सद्भाव और समृद्धि लेकर आए।

Is Press Release?: 
0