उप-राष्ट्रपति ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय को सलाह दी कि वह नेल्लौर में क्षेत्रीय शिक्षा संस्थान पर विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार करने के कार्य में तेजी लाए।

नई दिल्ली
अगस्त 15, 2019

उन्होंने मंत्रालय से कहा कि वह केन्द्रीय भारतीय भाषा संस्थान (सीआईआईएल) को और अधिक सशक्त बनाए।;
उन्होंने सुझाव दिया कि शास्त्रीय तेलुगू विशिष्ट अध्ययन केन्द्र को दोनों में से किसी भी एक तेलुगू राज्य में उपयुक्त स्थान पर स्थानांतरित किया जाए।

भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय को सलाह दी कि आंध्र प्रदेश के नेल्लौर में एनसीईआरटी क्षेत्रीय शिक्षा संस्थान की प्रस्तावित स्थापना संबंधी विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार करने के कार्य में तेजी लाई जाए।

आज उपराष्ट्रपति से उनके आवास पर उनसे मिलने आए केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल से भी उपराष्ट्रपति ने कहा कि केन्द्रीय भारतीय भाषा संस्थान (सीआईआईएल), मैसूर स्थित शास्त्रीय तेलुगू विशिष्ट अध्ययन केन्द्र को और अधिक सशक्त बनाया जाए और इस केन्द्र को दोनों में से किसी भी एक तेलुगू राज्य (आंध्र प्रेदश या तेलंगाना ) में स्थानांतरित किया जाए।

श्री नायडु यह भी चाहते थे कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम के तहत स्वीकृत विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों को शीघ्र स्थापित करे।

मानव संसाधन विकास मंत्री ने उपराष्ट्रपति के सुझावों पर कार्य करने की इच्छा व्यक्त की।

उपराष्ट्रपति ने केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान 27 दिसंबर, 2016 को तत्कालीन मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर के साथ संयुक्त रूप से क्षेत्रीय शिक्षा संस्थान-एनसीईआरटी की आधारशिला रखी थी।

क्षेत्रीय शिक्षा संस्थान की स्थापना से इस क्षेत्र की लंबे समय से चली आ रही मांग पूरी होगी। नेल्लौर में प्रस्तावित नए संस्थान में शिक्षक शिक्षा पाठ्यक्रम जैसे बीएससी। बीए, बी.एङ. , एमएड और पीएचडी के पाठ्यक्रमों की पढ़ाई होगी। शिक्षा के क्षेत्र में अनुसंधान कराने के अतिरिक्त यह संस्थान शिक्षकों और उन्हें शिक्षा देने वाले शिक्षकों का क्षमता निर्माण करने और विद्यालयों में सर्व शिक्षा अभियान, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान और आईसीटी जैसी भारत सरकार की योजनाओं के कार्यान्वयन को मजबूती प्रदान करेगा । राज्य सरकार ने आंध्र प्रदेश के नेल्लौर के वेंकटाचलम मंडल में राष्ट्रीय राजमार्ग-16 के निकट कनूपुरू बिट-2 में राष्ट्रीय राजमार्ग पर 50 एकड़ भूमि नि:शुल्क आंबटित की थी।

बैठक में शिक्षा सचिव श्री आर. सुब्रह्मण्यम और श्री ऋषिकेश सेनापति तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Is Press Release?: 
1