उपराष्ट्रपति पराग्वे और कोस्टा रिका की यात्रा पर रवाना हुए

नई दिल्ली
मार्च 4, 2019

किसी भी भारतीय उपराष्ट्रपति की पराग्वे की यह पहली यात्रा हैl

भारत के उपराष्ट्रपति, श्री एम. वेंकैया नायडु ने आज यहां दो लैटिन अमेरिकी देशों पराग्वे और कोस्टा रिका के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए दो देशों की आठ दिवसीय यात्रा पर रवाना हुए। भारत में पराग्वे के दूतावास में मंत्री मिशन के उप प्रमुख, श्री रूबेन डारियो बेनिटेज़ पाल्मा, कोस्टा रिका के सीडीए, श्री एडुआर्डो सालगाडो और अन्य गणमान्य व्यक्ति उनके प्रस्थान के समय उपस्थित थे।

पराग्वे गणराज्य में किसी भारतीय उपराष्ट्रपति की यह पहली यात्रा होगी।

उपराष्ट्रपति के साथ संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय में राज्य मंत्री, श्री एल्फोंस जोसेफ कन्ननथनम; संसद सदस्य, श्री राम कुमार कश्यप और भारत सरकार के वरिष्ठ अधिकारी गए हैं।

पराग्वे पहुंचने के तुरंत बाद, श्री नायडु नायकों के राष्ट्रीय स्मारक जाएंगे और माल्यार्पण करके मृत सैनिकों को श्रद्धांजलि देंगे। बाद में, वह पराग्वे के राष्ट्रपति श्री मारियो अब्दो बेनिटेज़ के साथ पलासियो डी गोबेरनो में चर्चा करेंगे।

उपराष्ट्रपति पराग्वे गणराज्य के उपराष्ट्रपति, श्री हुगो वेलाजक्वेज के साथ एकांत में वार्ता करेंगे और उच्च स्तरीय शिष्टमंडल वार्ता में भाग लेंगे और अपने सम्मान में आयोजित भोज में भाग लेंगे।

बाद में, श्री नायडु राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष श्री सिल्वियो ओवेलर के साथ मुलाकात करेंगे और पराग्वे में भारतीय समुदाय द्वारा आयोजित एक अभिनन्दन समारोह में भाग लेंगे।

7 मार्च को सैन जोस के लिए रवाना होने से पहले, उपराष्ट्रपति व्यापारिक समुदाय के साथ बातचीत करेंगे और पराग्वे में "व्यापार और निवेश के अवसरों" पर एक प्रस्तुति का अवलोकन करेंगे।

सैन जोस पहुंचने के तुरंत बाद, उपराष्ट्रपति को विधि सम्मत शासन, लोकतंत्र ष्‍संपोषणीय विकास और शांति के लिए उनके योगदान को मान्यता देने के लिए यूनिवर्सिटी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय शांति और संघर्ष अध्ययन में डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी (ऑनोरिस कॉसा) की डिग्री प्राप्त प्रदान की जायेगी।

बाद में, उपराष्ट्रपति अपने मेजबान, कोस्टा रिका गणराज्य के राष्ट्रपति, श्री कार्लोस अल्वाराडो क्वेसादा के साथ मुलाकात करेंगे और उनके साथ उच्च स्तरीय शिष्टमंडल वार्ता में भी भाग लेंगे।

9 मार्च को, कोस्टा रिका गणराज्य की कांग्रेस अध्यक्ष, सुश्री कैरोलिना हिडाल्गो हेरेरा उनके साथ मुलाकात करेंगी, इसके बाद कोस्टा रिका गणराज्य की प्रथम उपराष्ट्रपति सुश्री एप्सी कैंपबेल बर द्वारा आयोजित मध्याह्न भोजन करेंगे।

बाद में, श्री नायडु मैड्रिड से होते हुए भारत के लिए रवाना होने से पहले भारतीय समुदाय द्वारा आयोजित अभिनन्दन समारोह में भाग लेंगे।

अपनी यात्रा के दौरान, श्री नायडु पराग्वे और कोस्टा रिका के साथ व्यापार, संस्कृति और विज्ञान और प्रौद्योगिकी सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को सुदृढ़ करने पर बल देने के अलावा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता के लिए भारत के दावे के लिए दोनों देशों से समर्थन प्राप्त करेंगे।

उपराष्ट्रपति 11 मार्च को भारत वापस लौटेंगे।

Is Press Release?: 
1