सरकार और निजी क्षेत्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को सुदृढ़ करने के लिए एक साथ कार्य करना चाहिए: उपराष्ट्रपति

विजयवाड़ा, आंध्र प्रदेश
फ़रवरी 2, 2018

पुलिस को ऐसी नीतियों का अनुकरण करना चाहिए जो लोगों के अनुकूल हों : उपराष्ट्रपति

उपराष्ट्रपति ने विजयवाड़ा के नजदीक अटुकुरू ग्राम में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और पुलिस स्टेशन की आधारशिला रखी

भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु ने कहा है कि सरकार और निजी क्षेत्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, जो ग्रामीण क्षेत्रों में कम लागत वाली अत्यावश्यक दवाइयों की आपूर्ति करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, को सुदृढ़ करने के लिए एक साथ काम करना चाहिए। वह आज विजयवाड़ा के नजदीक अटकुरू ग्राम में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की आधारशिला रखने के बाद सभा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर आंध्र प्रदेश के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा मंत्री डा. के. श्रीनिवास, आंघ्र प्रदेश के युवक और खेलकूद मंत्री श्री कोल्लु रविन्द्र और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि सरकारी अस्पतालों और निजी अस्पतालों को दूरस्थ क्षेत्रों में प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में भाग लेना चाहिए। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र वह आधारशिला है जिसपर किसी राष्ट्र की अधिकांश स्वास्थ्य परिदान प्रणाली तैयार की जाती है। उन्होंने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का लक्ष्य सभी लोगों तक सर्वसुलभ स्वास्थ्य परिचर्या उपलब्ध कराना और इसे देश के ऐसे सुदूरवर्ती क्षेत्रों में पहुँचाना है जहाँ यह परिचर्या नहीं पहुँची है।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य परिचर्या प्रदान करने वाले व्यवसायियों के पास नैदानिक, प्रबंधन कौशल और मानवीय दृष्टिकोण वाला सामाजिक कौशल होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि उन्हें कुछ परिस्थितियों में लोगों को मानसिक आघात से निकालने के लिए परामर्शदाताओं की भूमिका भी निभानी चाहिए।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि पुलिस बल को मजबूत करने से समाज में कानून और व्यवस्था की स्थिति सुधरेगी। उन्होंने यह भी कहा कि अच्छी पुलिस व्यवस्था समय की माँग है। पुलिस को कानून व्यवस्था की स्थिति से निपटने के लिए जनहितैषी नीतियाँ अपनानी चाहिए।

Is Press Release?: 
1