भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा विमानन बाजार बनने जा रहा है : उपराष्ट्रपति ने दूसरे एअरो एक्स्पो इंडिया 2017 का उद्घाटन किया

नई दिल्ली
नवम्बर 2, 2017

भारत के उपराष्ट्रपति, श्री एम वेंकैया नायडु ने कहा है कि भारत में विमानन क्षेत्र तेजी से प्रगति कर रहा है और वर्ष 2026 तक यात्रियों की दृष्टि से दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा विमानन बाजार बनने जा रहा है। वह आज यहां दूसरे एअरो एक्सपो इंडिया 2017 का उद्घाटन करने के बाद जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर नागर विमानन मंत्री, श्री अशोक गजपति राजू पुसापति, नागर विमानन मंत्रालय में राज्य मंत्री, श्री जयंत सिन्हा और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि विमानन क्षेत्र न केवल संपर्क को बढ़ावा देने और रोजगार सृजित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, बल्कि अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण चालक भी है। उन्होंने आगे कहा कि विमानन वैश्विक परिवहन प्रणाली की रीढ़ है। यह वास्तव में व्यवसायों को जोड़ने, लोगों को एक साथ लाने और दुनियाभर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्र है।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि आईएटीए के अनुसार जनवरी, 2017 में वर्ष-दर-वर्ष 26.6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करते हुए भारत लगातार 22वीं बार दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ता हुआ घरेलू यात्रा बाजार बन गया। उन्होंने आगे कहा कि यद्यपि दुर्घटनाओं में कमी आई है, तथापि इसमें आत्मसंतुष्टी नहीं हो सकती है और सुरक्षा को विमानन अधिकारियों और विशेषज्ञों की सर्वोच्च प्राथमिकता बनाए रखना होगा।

उपराष्ट्रपति ने 'उड़ान' स्कीम पर अपनी खुशी व्यक्त की जो हवाई सेवारहित और अल्प हवाई सेवा वाले हवाई अड्डों से सेवा प्रदान करके क्षेत्रीय संपर्क को बढ़ावा देती है। उन्होंने कहा कि पर्यटन और व्यापार यात्रा को बढ़ावा देने के लिए टीयर-II शहरों, तीर्थयात्रा शहरों और ऐतिहासिक स्थानों को व्यापक वायु मार्गों के साथ जोड़ा जाना महत्वपूर्ण है।

Is Press Release?: 
1