उपराष्ट्रपति ने झांकी कलाकारों और जनजातीय अतिथियों से मुलाकात की और उनका अभिनंदन किया

नई दिल्ली
जनवरी 28, 2018

झाँकी कलाकारों ने उपराष्ट्रपति आवास में प्रस्तुति दी

भारत के उपराष्ट्रपति, श्री एम. वेंकैया नायडु और श्रीमती उषा नायडु ने आज यहां अपने आवास पर गणतंत्र दिवस परेड-2018 में भाग लेने वाले झाँकी कलाकारों और जनजातीय अतिथियों से मुलाकात की और उनका अभिनंदन किया। श्री एम. वेंकैया नायडु और श्रीमती उषा नायडु ने अधिकारियों और सहायक कर्मचारियों समेत लगभग 2000 झाँकी कलाकारों और जनजातीय अतिथियों के साथ लगभग दो घंटे बिताए।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि देश के विभिन्न भागों के विभिन्न कलाकारों को एक मंच पर प्रस्तुति 'विविधता में एकता' को प्रतिबिम्बित करती है। यह हमारे राष्ट्र की अनूठी पहचान है, उन्होने यह भी कहा कि इससे राष्ट्रीय सौहार्द और वैश्विक भाईचारे का विकास होता है।

झाँकी कलाकारों ने उपराष्ट्रपति और अन्य सैंकड़ों आमंत्रित व्यक्तियों के समक्ष गणतंत्र दिवस परेड-2018 के दौरान प्रस्तुत किये गये विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम पुन: प्रस्तुत किये। इन प्रस्तुतियों में असम, जम्मू और कश्मीर, त्रिपुरा, गुजरात, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के कलाकारों ने भाग लिया।

खेल मंत्रालय के सदस्यों ने साँस रोक देने वाली युद्धकला 'मल्लखंभ' की प्रस्तुति दी जिससे वहां विद्यमान प्रत्येक व्यक्ति प्रभावित हुआ।

उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडु और श्रीमती उषा नायडु ने अपने आवास में उपस्थित प्रत्येक व्यक्ति से मुलाकात की। उपराष्ट्रपति और उनकी पत्नी से मुलाकात करने वाले कलाकार और अधिकारी गुजरात, केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग, मणिपुर, लक्षद्वीप, केरल, ऑल इंडिया रेडियो, आई.टी.बी.पी., छत्तीसगढ़, जनजातीय कार्य मंत्रालय, जम्मू और कश्मीर, महाराष्ट्र, त्रिपुरा, आयकर विभाग, मध्य प्रदेश, असम, आई.सी.ए.आर., पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, विदेश मंत्रालय, कर्णाटक, खेल मंत्रालय, ट्रैक्टर चालक, आर आर शिविर में थल सेना कार्मिक, फोटोग्राफर और सिविल कार्ड ड्राइवर और रक्षा मंत्रालय के थे।

उपराष्ट्रपति के द्वारा अपने आवास पर सभी आगंतुकों के लिए चाय और नाश्ते का भी प्रबंध किया गया था।

Is Press Release?: 
1