भारत और सिंगापुर प्रगति और संधारणीय विकास में भागीदार हैं: उपराष्ट्रपति उपराष्ट्रपति जी ने सिंगापुर के व्यापार और उद्योग मंत्री के साथ बातचीत की

नई दिल्ली
नवम्बर 16, 2017

भारत के उपराष्ट्रपति, श्री एम. वेंकैया नायडु ने कहा है कि भारत और सिंगापुर प्रगति और संधारणीय विकास में भागीदार हैं। वह आज यहां सिंगापुर के व्यापार और उद्योग मंत्री, श्री एस. ईश्वरन, जो उनसे मुलाकात करने पहुंचे थे, से बातचीत कर रहे थे।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि भारत एक सामंजस्यपूर्ण, बहुसांस्कृतिक और बहुजातीय समाज के उज्जवल उदाहरण के रूप में सिंगापुर के उद्भव की सराहना करता है। उन्होंने यह भी कहा कि अनेक भारतीय राज्यों ने सिंगापुर के साथ लाभकर भागीदारी विकसित की है। उन्होंने आगे कहा कि हम सहयोगी और प्रतिस्पर्धी संघवाद में विश्वास रखते हैं और राज्य सामाजिक-आर्थिक विकास पर संयुक्त रूप से ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि भारत और सिंगापुर दोनों ही एक दूसरे की प्रगति और समृद्धि के लिए महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने आगे कहा कि सिंगापुर, भारत की विकास संबंधी प्राथमिकताओं में एक महत्वपूर्ण भागीदार है। उन्होंने यह भी कहा कि भारत कारोबारी सुगमता सहित सभी क्षेत्रों में एक बड़े रूपांतरण के शीर्ष स्तर पर है।

उपराष्ट्रपति ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि सिंगापुर के एक उद्योग समूह ने आंध्र प्रदेश की नई राजधानी अमरावती शहर में स्टार्ट-अप क्षेत्र का विकास कार्य शुरू कर दिया है। इस परियोजना को निश्चित रूप से समग्र भारत में नई परियोजनाओं के लिए एक भावी मॉडल के रूप में विकसित किया जा सकता है।

Is Press Release?: 
1